Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

21 को आज़ाद हिंद फौज के 78वें स्थापना दिवस पर  भव्य कार्यक्रम

0 2
Poonam

21 को आज़ाद हिंद फौज के 78वें स्थापना दिवस पर  भव्य कार्यक्रम

स्वतंत्रता सेनानियों व शहीदों के परिजनों व रणबांकुरों को आमंत्रित किया

स्वतंत्रता सेनानी उत्तराधिकारी समिति द्वारा किया जा रहा यह आयोजन

पीएम मोदी के आह्वान पर देश आज़ादी का ‘अमृत महोत्सव‘ मना रहा

फतह सिंह उजाला
गुरूग्राम। 
स्वतंत्रता सेनानी उत्तराधिकारी समिति गुरुग्राम की ओर से 21 अक्टूबर को आज़ाद हिंद फौज (आईएनए) के 78वें स्थापना दिवस के अवसर पर भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। आज़ादी के अमृत महोत्सव के तहत आयोजित यह कार्यक्रम स्वतंत्रता सेनानी जिला परिषद् हॉल परिसर में मनाया जाएगा।

स्वतंत्रता सेनानी उत्तराधिकारी समिति गुरुग्राम के अध्यक्ष कपूर सिंह दलाल ने कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर देश आज़ादी का ‘अमृत महोत्सव‘ मना रहा है। देश के सभी स्वतंत्रता सेनानियों और रणबांकुरो की याद में सभी स्वतंत्रता सेनानी उत्तराधिकारी समिति भी अपने महान स्वतंत्रता सेनानियों की याद में आज़ाद हिंद फौज का स्थापना दिवस मना रही हैं। जिला में 21 अक्टूबर को आयोजित होने वाले इस भव्य कार्यक्रम में स्वतंत्रता सेनानियों व शहीदों के परिजनों सहित रणबांकुरों को आमंत्रित किया गया है। दलाल ने बताया कि कार्यक्रम का आयोजन प्रातः 11 बजे किया जाएगा। कार्यक्रम में मुख्यातिथि के रूप में नगर निगम गुरुग्राम की मेयर श्रीमती मधु आजाद, विशिष्ट अतिथि के रूप में जिला परिषद गुरुग्राम के पूर्व अध्यक्ष कल्याण सिंह चौहान व विशेष आमंत्रित अतिथि के रूप में गुरुग्राम के विधायक सुधीर सिंगला व बादशाहपुर के विधायक एवं हरियाणा एग्रो इंडस्ट्री के चेयरमैन राकेश दौलताबाद सहित जिला के अनेक गणमान्य नागरिक प्रमुख रूप से उपस्थित रहेंगे।

गौरतलब है कि आज़ाद हिंद फौज/आईएनए की बागड़ोर महान स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने 21 अक्टूबर 1943 को साउथ ईस्ट एशिया रंगून, (बर्मा) में संभाली थी जिसमें तकरीबन साठ हजार स्वतंत्रता सेनानियों ने हिस्सा लिया था । अंग्रेजों से देश को आज़ाद करवाने की कसम खाई थी और उसी दिन से लेकर आज तक सभी स्वतंत्रता सेनानियों का जोश उतना ही बरकरार है। आईएनए के स्थापना दिवस पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने अपने इंडियन नेशनल आर्मी के साथियों से कहा था कि ‘तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आज़ादी दिलाऊंगा‘।

Computer
cctv

Leave a Reply

%d bloggers like this: