Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

किसानों को बाजरा का एमएसपी नही और न धान का उचित रेट: भूपेंद्र सिंह

0 0
Poonam

किसानों को बाजरा का एमएसपी नही और न धान का उचित रेट: भूपेंद्र सिंह

किसान को अपनी हर छोटी बड़ी जरूरत के लिए संघर्ष करना पड़ रहा

किसानों को वक्त पर न खाद व बीज और ना ही वक्त पर उपज की पेमेंट

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने किया ऐलनाबाद उपचुनाव में कांग्रेस की जीत का दावा

2 साल में गठबंधन सरकार ने घोटाले और किसानों को परेशान ही किया

बीजेपी-जेजेपी गठबंधन सरकार ने लांघी भ्रष्टाचार की सारी सीमाएं

फतह सिंह उजाला
गुरुग्राम। 
प्रदेश कांग्रेस सरकार के पूर्व सीएम और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने ऐलनाबाद उपचुनाव में कांग्रेस की जीत का दावा किया है। हुड्डा शनिवार को गुरुग्राम में पूर्व खेल मंत्री सुखबीर कटारिया के आवास पर पत्रकारो से रूबरू हो रहे थे। उन्होंने कहा कि अपने 2 साल के कार्यकाल में बीजेपी-जेजेपी सरकार ने घोटाले, किसान और आम जनता को परेशान करने के अलावा कुछ नहीं किया। गठबंधन सरकार हर मोर्चे पर विफल साबित हुई है। प्रदेश का हर वर्ग इस सरकार से परेशान है। पूर्वसीएम हुड्डा ने कहा कि आज किसान को न धान का उचित रेट मिल रहा है और बाजरा विक्रेता और उत्पादक किसानों को न ही एमएसपी मिल रहा है। 2250 रुपये क्विंटल एमएसपी वाला बाजरा 800 से 1000 रुपये के रेट पर पिट रहा है। भावांतर योजना का 600 रुपये यदि जोड़ भी दिया जाए तो भी किसानों को करीब 600 रुपये प्रति क्विंटल का भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं, पूरे हरियाणा में डीएपी खाद को लेकर हाहाकार मचा हुआ है। किसानों को कई-कई घंटे लंबी कतारों में इंतजार करना पड़ता है। फिर भी उन्हें खाद नहीं मिल पा रही। सरकार की कुनीतियों के चलते किसानों को ना वक्त पर खाद व बीज मिल पाता और ना ही वक्त पर फसल की खरीद और ही पेमेंट हो पाती। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि जहां एक तरफ किसान को अपनी हर छोटी बड़ी जरूरत के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है तो वहीं आम आदमी को भी बिजली जैसी आधारभूत समस्याओं से दो चार होना पड़ रहा है। गांव और शहरों में लोगों को लंबे-लंबे पावर कट झेलने पड़ रहे हैं। जबकि कांग्रेस कार्यकाल के दौरान हमने प्रदेश को बिजली उत्पादन में सरप्लस स्टेट बना दिया था।

Computer

कांग्रेस नेता हुड्डा ने गुरुग्राम समेत पूरे प्रदेश की सड़कों की हालत को दयनीय बताया। उन्होंने कहा कि प्रदेश का शायद ही कोई ऐसा जिला होगा जहां चलने लायक सड़कें बची हों। जर्जर और बड़े-बड़े गड्ढों से भरी सड़कें हादसों को न्यौता दे रही हैं। सरकार ने दो लोगों को पूरे प्रदेश की सड़कों की मरम्मत का जिम्मा सौंप रखा है। लेकिन कहीं पर मरम्मत का काम नहीं हुआ। इस मामले में भी जांच होनी चाहिए। हुड्डा ने कहा कि गठबंधन सरकार के 2 साल और बीजेपी सरकार के 5 साल असफलताओं से भरे पड़े हैं। सरकार की तमाम जनविरोधी नीतियों और नाकामियों का खुलासा करने के लिए कांग्रेस विधायक दल की तरफ से ‘विपक्ष आपके समक्ष’ कार्यक्रम की शुरुआत की गई है। क्योंकि इस सरकार से जनता का मोह पूरी तरह भंग हो चुका है। इसलिए उसने बरोदा उपचुनाव में गठबंधन को बुरी तरह से हराया था। अब ऐलनाबाद उपचुनाव में भी उसे हार का सामना करना पड़ेगा और कांग्रेस का प्रत्याशी जीत दर्ज करेगा।

cctv

Leave a Reply

%d bloggers like this: