Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

57 करोड़ का का भवन केवल 45 करोड़ में बनाया गया: डिप्टी सीएम

0 1
Poonam

57 करोड़ का का भवन केवल 45 करोड़ में बनाया गया: डिप्टी सीएम

650 अधिकारियों व कर्मचारियों के बैठने की व्यवस्था एक छत के नीचे

एक्साइज एंड टैक्सेशन विभाग का कार्यालय का नाम अब संसाधन भवन

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने शनिवार को किया संसाधन भवन का लोकार्पण

आबकारी-कराधान विभाग ने वित्त वर्ष में एक हजार करोड़ ज्यादा जुटाया

फतह सिंह उजाला
गुरुग्राम । 
गुरुग्राम जिला को एक्साइज एंड टैक्सेशन विभाग के नए कार्यालय भवन का तोहफा मिला है। आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित कॉरपोरेट लुक वाले इस कार्यालय भवन को संसाधन भवन का नाम दिया गया है और इसका लोकार्पण प्रदेश के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने किया। विभाग का यह नया कार्यालय भवन गांव झाड़सा में बने सर छोटू राम भवन के सामने सेक्टर 32 में बनाया गया है। लोकार्पण अवसर पर सवालों का जवाब देते हुए डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि इस नए कार्यालय भवन में एक्साइज एंड टैक्सेशन विभाग के सभी 650 अधिकारियों व कर्मचारियों को एक छत के नीचे काम करने का मौका मिलेगा।

उन्होंनेकहा कि इससे न केवल उनकी कार्यकुशलता में सुधार होगा बल्कि आम नागरिकों को भी इसका लाभ मिलेगा। उन्होंने बताया कि इस भवन निर्माण के लिए 57 करोड़ का एस्टीमेट बनाया गया था, लेकिन किफायती ढंग से  काम करते हुए लोक निर्माण विभाग ने इसका निर्माण 45 करोड़ में किया है। यह भवन एनर्जी इफेक्टिव-वे में बनाया गया है। उन्होंने कहा कि गुरुग्राम के मध्य में स्थित होने की वजह से शहर के सभी कौनो से लोग अपनी समस्या को यहां आकर आसानी से सुलझवा पाएंगे। आबकारी एवं कराधान विभाग ने चालू वित्त वर्ष में अब तक लगभग 3000 करोड़ रुपए का रेवेन्यू एकत्रित किया है जबकि पिछले वर्ष इसी अवधि में दो हजार करोड़ रुपए का राजस्व एकत्रित किया गया था। यह दर्शाता है कि विभाग के अधिकारी व कर्मचारी प्रभावी ढंग से काम कर रहे हैं।

गठबंधन का मजबूत उम्मीदवार उतारा
ऐलनाबाद उपचुनाव के संबंध में पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए दुष्यंत ने कहा कि गठबंधन ने अपना मजबूत उम्मीदवार उतारा है। हम पूरी मजबूती के साथ चुनाव लड़ेंगे और चुनाव जीतेंगे। सिंघु बॉर्डर पर एक व्यक्ति को धरना स्थल पर मारे जाने के संबंध में पूछे गए सवाल के जवाब में दुष्यंत ने कहा कि यह बर्बरता पूर्ण घटना है जिसकी जितनी निंदा की जाए उतनी कम है। उन्होंने कहा कि हालांकि इस घटना पर पुलिस कानूनी कार्रवाई कर रही है और एक व्यक्ति ने जिम्मेदारी भी ली है परंतु जो 40 के करीब धरना स्थल के नेता हैं, उन्हें भी उसकी जिम्मेदारी लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि किसी भी संगठन, विभाग या आंदोलन में ऐसी कोई गलत घटना होती है तो उसकी जिम्मेदारी संबंधित संगठन, विभाग या आंदोलन के नेतृत्व की होती है।

Computer

पहले सरसों फिर गेंहू उत्पादाकों को खाद
खाद के बारे में पूछे जाने पर दुष्यंत ने कहा कि प्रदेश में खाद पर्याप्त मात्रा में है, परसों ही इसकी समीक्षा की गई थी। उन्होंने कहा कि लोग पहले ही खाद का स्टॉक करने लगे, इसलिए अब यह निर्णय लिया गया है कि पहले सरसों की बिजाई करने वाले किसानों को खाद दी जाएगी और उसके बाद गेहूं की बिजाई करने वालों को मिलेगी। साथ ही उन्होंने कहा कि किसानों को वैकल्पिक खाद जैसे एसएसपी और एनपीके का भी प्रयोग करना चाहिए। इस बारे में कृषि विभाग के अधिकारी व कर्मचारी किसानों को समझा भी रहे हैं। बाजरा खरीद के बारे में पूछे गए सवाल पर कहा कि किसानों को 600 प्रति क्विंटल के हिसाब से भावांतर भरपाई योजना के तहत पैसा दिया जा रहा है, जो सीधे डीबीटी के माध्यम से उनके खाते में डाला जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में लगभग पौने तीन लाख किसान मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर रजिस्टर्ड हैं। उनकी उपज के हिसाब से पैसा उनके खाते में ट्रांसफर कर दिया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि हरियाणा देश का पहला प्रदेश है जहां पर ऐसी व्यवस्था की गई है कि किसान की फसल की अदायगी 72 घंटे में नहीं होने पर देरी के लिए उसे 9 प्रतिशत का ब्याज मिलेगा।

यह गणमान्य लोग रहे मौजूद
इस अवसर पर जजपा के जिला अध्यक्ष ऋषि राज राणा, पूर्व जिला अध्यक्ष सुबे सिंह बौहरा, गुरुग्राम के अतिरिक्त उपायुक्त विश्राम कुमार मीणा, एक्साइज एंड टैक्सेशन विभाग के मुख्यालय से जॉइंट एक्साइज एंड टैक्सेशन कमिश्नर कृष्ण कुमार, स्थानीय जॉइंट एक्साइज एंड टैक्सेशन कमिश्नर काकुल सहरावत, जॉइंट एक्साइज एंड टैक्सेशन कमिश्नर गीतांजलि मोर, डीईटीसी समीर यादव, दीपिका चौधरी, दीपा चौधरी, सुरेश बोडवाल, लोक निर्माण विभाग के चीफ इंजीनियर राजीव यादव, कार्यकारी अभियंता पुनीत तथा संदीप सिंह वधावन, डीईटीसी एक्साइज अनिरुद्ध शर्मा तथा वी के बेनीवाल सहित लोक निर्माण विभाग एक्साइज एंड टैक्सेशन विभाग के अन्य अधिकारीगण व कर्मचारीगण उपस्थित थे।

cctv

Leave a Reply

%d bloggers like this: