Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.
dalip

बेखौफ हमलावरों ने होटल में घुसकर चलाई तााबड़तोड़ गोलियां

0 0
Poonam

बेखौफ हमलावरों ने होटल में घुसकर चलाई ताबड़तोड़ गोलियां

यह घटना पटौदी क्षेत्र में गांव जोड़ी के पास धीरज होटल की

हमलावरों के द्वारा हत्या के इरादे से की गई कई राउंड फायरिंग

हमलावरों द्वारा की गई फायरिंग में एक व्यक्ति की हो गई मौत

कार में आए हमलावर फायरिंग करके उसी कार में हुए फरार

हमलावरों के धीरज होटल पहुंचने की घटना सीसीटीवी में कैद

फतह सिंह उजाला
पटौदी ।
 गुरुग्राम-पटौदी के व्यस्त सड़क मार्ग पर पटौदी क्षेत्र में ही गांव जोड़ी के नजदीक कार में आए अज्ञात हमलावरों के द्वारा की गई ताबड़तोड़ फायरिंग के बाद एक व्यक्ति की मौत हो गई और एक गंभीर रूप से घायल हो गया। यह दिल दहला देने वाली घटना गांव जोड़ी के पास में स्थित मुख्य रोड पर धीरज होटल की है । सूत्रों के मुताबिक होटल में ताबड़तोड़ की गई फायरिंग की घटना की गोलियों की आवाज सुनकर जानकारी मिली । वाहन में सवार होकर होटल में पैदल जा रहे हमलावरों की पूरी घटना सीसीटीवी में भी कैद हो गई है । जैसे ही धीरज होटल में ताबड़तोड़ फायरिंग की जानकारी पुलिस प्रशासन को मिली तो पुलिस विभाग में भी भगदड़ मच गई ।

जानकारी मिलते ही पटौदी थाना पुलिस और आसपास थाना पुलिस के अलावा सीन ऑफ क्राइम , फॉरेंसिक विभाग अन्य जांच दल की टीमें घटनास्थल पर पहुंची । इस दौरान होटल का मुख्य गेट पूरी तरह से बंद कर दिया गया । समाचार लिखे जाने तक हमलावरों की पहचान हो सकी ? कितने हमलावर थे ? किस के बयान पर किस के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ ? इस विषय में पटौदी एसीपी वीर सिंह और पटोदी थाना प्रभारी शैलेंद्र सिंह से जानकारी लेने के लिए फोन किया गया लेकिन कोई रिस्पांस नहीं मिला। जानकारी के मुताबिक नित्य प्रति की भांति धीरज होटल में महेंद्र उम्र 40 वर्ष और अजीत उम्र 45 वर्ष पुत्र श्यामलाल अपने होटल धीरज में ही मौजूद थे । लगभग 10 बजे के आसपास एक कार जमालपुर की तरफ से आई और होटल के बाहर रुक गई । कार रुकने के बाद कार के दोनों तरफ से सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक पांच अज्ञात व्यक्ति उतरकर सीधे होटल में चले गए । सूत्रों के मुताबिक हमलावरों ने होटल के अंदर घुसते ही महेंद्र और अजीत दोनों को निशाना बनाते हुए कई राउंड फायर किए ।

इस हमले में महेंद्र को पांव में गोली लगी तथा अजीत के पेट में 2 गोलियां धस गई । घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस के द्वारा घायल अजीत को मानेसर स्थित राकलैंड हॉस्पिटल में एडमिट करवाया गया और महेंद्र को मेदांता अस्पताल में भेजा गया । बताया गया है कि हमलावरों के द्वारा की गई फायरिंग में अजीत के पेट में 2 गोलियां लगी, उपचार के दौरान अजीत की मौत हो गई तथा महिंद्र अभी बयान देने की स्थिति में नहीं है । मौके पर पहुंची पुलिस को होटल परिसर के अंदर ही हमलावरों के द्वारा की गई फायरिंग की गोलियों के खोल भी बरामद हुए हैं । कुल कितने खोल बरामद हुए , इस बात की पुष्टि भी नहीं हो सकी है । गुरुग्रा-पटौदी के बीच व्यस्त सड़क मार्ग के किनारे दिनदहाड़े धीरज होटल में अज्ञात हमलावरों के द्वारा इस प्रकार की गई फायरिंग को लेकर आसपास के होटल संचालकों व अन्य प्रतिष्ठान मालिकों में अपनी और स्टाफ की सुरक्षा को लेकर भय का माहौल बना हुआ है ।

Computer

सूत्रों के मुताबिक अज्ञात हमलावरों के द्वारा जो फायरिंग की गई , यह घटना कथित रूप से पैसे के लेनदेन को लेकर बताई जा रही है । सूत्रों के मुताबिक धीरज होटल के ही अजीत पुत्र श्यामलाल के द्वारा किसी वेयरहाउस में अपना वाहन सामान के लाने ले जाने के लिए दिया हुआ है । इस प्रकार की आशंका व्यक्त की गई है कि संभवत जो वाहन वेयरहाउस में कथित रूप से किराए पर दिया गया , उसी के किराए के भुगतान के लेनदेन को लेकर यह हमला किया गया है । सूत्रों के मुताबिक पुलिस के द्वारा सीसीटीवी में दिखाई दे रहे वाहन अथवा कार की पहचान के साथ ही इसमें सवार होकर आए हमलावरों की पहचान के लिए आसपास के वेयरहाउस सहित अन्य लोगों से भी जानकारी एकत्रित की जा रही है । धीरज होटल में की गई फायरिंग में मृतक अजीत का पोस्टमार्टम के उपरांत अंतिम संस्कार भी कर दिया गया। फिलहाल पुलिस की विभिन्न टीमें पूरे घटनाक्रम को लेकर अलग-अलग एंगल से अपनी जांच कर रही है । वहीं पुलिस को इस बात का इंतजार है कि गोली लगने से घायल महेंद्र के बयान के बाद ही इस पूरे घटनाक्रम का पटाक्षेप हो सकेगा । समाचार लिखे जाने तक पुलिस नीरज होटल में की गई फायरिंग की गुत्थी को सुलझा ने के लिए जुटी हुई है।

कार बरामद और एक संदिग्ध दबोचा
सूत्रों के मुताबिक अज्ञात हमलावरों के द्वारा जो कार इस्तेमाल की गई, वह अपने ही किसी जानकार के द्वारा मांग कर लाई गई थी । सूत्रों के मुताबिक हमलावर मांग कर लाई गई इसी कार में ही सवार होकर धीरज होटल पहुंचे और वारदात को अंजाम देकर बिना देरी किए फरार हो गए । सूत्रों के मुताबिक हमलावरों के द्वारा इस्तेमाल की गई कार को गांव खंडेवला के पास संदिग्ध हालत में बरामद कर लिया गया है । वही अपुष्ट सूत्रों का दावा है कि हमला करने वालों में से एक संदिग्ध को भी पुलिस के द्वारा दबोच लिया गया है । इस बात की अधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी है । चर्चा यह भी है कि जो संदिग्ध हमलावर दबोचा गया वह कथित रूप से गांव खंडेवला का ही बताया गया है।

cctv

Leave a Reply

%d bloggers like this: