Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.
Mahesh

गर्भ में लिंग जांच का स्वास्थ्य विभाग ने किया भंडाफोड़

9
Deepak Kataria

गर्भ में लिंग जांच का स्वास्थ्य विभाग ने किया भंडाफोड़

पटौदी में श्री साईं अल्ट्रासाउंड में चल रहा था घिनौना खेल

गर्भवती महिलाओं को दिल्ली व अन्य स्थानों से लाया जाता

इस घिनौने काम में कई अन्य बिचौलिए भी शामिल बताए गए

स्वास्थ्य विभाग व पुलिस की छापेमारी में तीन आरोपी गिरफ्तार

गिरफ्तार किये गए तीन आरोपियों में से एक आरोपी डॉक्टर

फतह सिंह उजाला

पटौदी । गर्भ में लड़का है या फिर लड़की है ? इस बात की जांच का खेल बीते काफी दिनों से पटौदी क्षेत्र के ही एक अल्ट्रासाउंड केंद्र में चल रहा था । इस घिनौंने खेल का जिला स्वास्थ्य विभाग के द्वारा भंडाफोड़ करते हुए पटौदी के श्री साईं अल्ट्रासाउंड केंद्र पर छापा मारा गया । आरोपानुसार यहां गर्भवती महिलाओं के गर्भ में लड़का है या लड़की है ? इस बात की अल्ट्रासाउंड कर कथित रूप से मौखिक जानकारी दी जा रही थी।

अल्ट्रासाउंड सेंटर पर लिंग जांच के लिए गर्भवती महिलाओं को लाने के वास्ते अल्ट्रासाउंड सेंटर से जुड़े कई अन्य लोग सक्रिय बताए गए । जोकि झज्जर दिल्ली सहित स्थानीय महिलाओं से संपर्क कर गर्भ में पल रहे शिशु के लिंग की पहचान का काम करने में सहयोग कर रहे थे । इस मामले में पटौदी थाना में पीएनडीटी डिपार्टमेंट गुरुग्राम के डॉक्टर प्रदीप कुमार नोडल ऑफिसर की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया है । इस पूरे मामले में कार्यवाही करते हुए स्वास्थ्य विभाग के द्वारा श्री साईं अल्ट्रासाउंड सेंटर और सेंटर संचालकों से अल्ट्रासाउंड मशीन का रजिस्ट्रेशन सहित अन्य दस्तावेज प्रस्तुत करने के लिए कहा गया । आरोप अनुसार जांच दल को किसी भी प्रकार के संतोषजनक दस्तावेज भी उपलब्ध नहीं करवाए गए।

Parveen Sharma

इस संदर्भ में डॉ प्रदीप कुमार के द्वारा की गई जांच पड़ताल के उपरांत दी गई शिकायत पर बलराम पुत्र रामेश्वर निवासी याकूबपुर , महेश पुत्र रोहतास निवासी सिवाड़ी , अभिमन्यु पुत्र वेद प्रकाश निवासी दाबोदा, डॉ पुनीत पुत्र अशोक गुप्ता सेक्टर 48 गुरुग्राम , सत्यजीत यादव पुत्र प्रताप सिंह निवासी भांगरोला कुलदीप यादव सहित अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है । उपरोक्त आरोपियों में से महेश पुत्र रोहतास निवासी सिवाडी अऔर अभिमन्यू पुत्र वेद प्रककाश डाबोदा को गिरफ्तार कर पटोदी कोर्ट में पेश किया गया । जहां से एक दिन के पुलिस हिरासत रिमांड पर भेजा गया । इन दोनों से इस पूरे खेल में इस्तेमाल की जाने वाली बाइक के विषय में जानकारी लेनी है । दूसरी ओर पुलिस सूत्रों के मुताबिक डॉ पुनीत पुत्र अशोक गुप्ता सेक्टर 48 गुरुग्राम को भी इस पूरे मामले में पुलिस के द्वारा गिरफ्तार किया गया। पटौदी कोर्ट के द्वारा डॉ पुनीत का केवल मात्र 6 घंटे का पुलिस हिरासत रिमांड दिया गया । पुलिस सूत्रों के मुताबिक पुलिस हिरासत रिमांड अवधि पूरी होने पर आरोपियों को फिर से कोर्ट में पेश किया जाएगा।

पुलिस में दर्ज शिकायत के मुताबिक पटौदी स्थित श्री साईं अल्ट्रासाउंड सेंटर पर गर्भस्थ शिशु के लिंग की पहचान बताने के लिए 70 से 75000 तक गर्भवती महिलाओं से वसूल किए जा रहे थे । इतना ही नहीं यहां किए जा रहे अन्य प्रकार के अल्ट्रासाउंड का भी सही प्रकार से रिकॉर्ड अल्ट्रासाउंड संचालक जांच दल के सामने प्रस्तुत नहीं कर सके । श्री साईं अल्ट्रासाउंड सेंटर से 2 लेटर हेड, एक ओपीडी रजिस्टर, स्मार्ट नोटबुक, एक रजिस्टर्ड , रबड़ स्टैंप इत्यादि को भी बरामद कर कब्जे में लिया गया है । डॉ बलराम के पास किसी भी प्रकार की मेडिकल योग्यता नहीं है । लेकिन वह डॉक्टर अरविंद के सर्टिफिकेट के आधार पर डॉक्टर के रूप में प्रैक्टिस कर रहा था। डॉ अरविंद ने आरोप अनुसार अवैध रूप से एमबीबीएस के अपने सर्टिफिकेट का इस्तेमाल करने की अनुमति प्रदान की हुई है। जिस समय श्री साईं अल्ट्रासाउंड सेंटर पर छापा मारा गया , उस समय वहां मौजूद आपके द्वारा जांच में शामिल होने से परहेज करते हुए किसी भी प्रकार का सहयोग नहीं किया गया तथा मौका लगते ही फरार हो गए। फिलहाल इस पूरे मामले की स्वास्थ्य विभाग और पुलिस के द्वारा अपनी जांच पड़ताल जारी रखी गई है ।

Mukesh Sharma
Parveen Yadav

Comments are closed.

%d bloggers like this: