Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

साइंस एग्जीबिशन में 13 कॉलेज के छात्रों के विभिन्न 52 माडल प्रदर्शित

0 15
Poonam

साइंस एग्जीबिशन में 13 कॉलेज के छात्रों के विभिन्न 52 माडल प्रदर्शित

राजकीय कॉलेज जाटोली में पहली बार इंटर कॉलेज साइंस एग्जीबिशन

प्रतिभागी छात्रों के द्वारा अपनी वैज्ञानिक सोच का परिचय कराया गया

कोरोनाकाल में भारतीय चिकित्सा वैज्ञानिकों ने मनवाया अपना लोहा

फतह सिंह उजाला
पटौदी । 
राजकीय कॉलेज जाटोली के 40 वर्ष के इतिहास में पहला मौका था , जब यहां इंटर कॉलेज साइंस एग्जिबिशन का आयोजन किया गया । राजकीय कालेज जाटोली के इतिहास में आयोजित पहली इंटर कॉलेज साइंस एग्जीबिशन में जिला झज्जर और जिला गुरुग्राम के कुल 13 विभिन्न कॉलेजों और कॉलेज के प्रतिभागी छात्राओं के द्वारा भाग लिया गया । वैसे तो 26 कॉलेजों को इस साइंस एग्जीबिशन प्रतियोगिता के लिए आमंत्रित किया गया था। जाटोली कॉलेज में पहली इंटर कॉलेज साइंस एग्जीबिशन में कुल 52 छात्र छात्राओं के द्वारा बनाए गए विभिन्न मॉडल प्रदर्शित किए गए। प्रदर्शित किए गए मॉडल के माध्यम से प्रतिभागी छात्र-छात्राओं के द्वारा इस बात को साबित किया गया की युवा वर्ग वैज्ञानिक खोज और शोध के मामले में निरंतर नई नई खोज करते आ रहे हैं।

विज्ञान और ज्ञान दोनों दृष्टिगत के महत्वपूर्ण 
इस मौके पर पटौदी के एमएलए और भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश मंत्री सत्य प्रकाश जरावता ने साइंस एग्जीबिशन के प्रतिभागी छात्र-छात्राओं को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि आज का दौर और समय विज्ञान और ज्ञान दोनों के दृष्टिगत बहुत महत्वपूर्ण है। भारत के ग्रामीण अंचल में भी वैज्ञानिक सोच रखनेे और खोज करने वाली प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है । समय-समय पर ग्रामीण अंचल से ऐसी खबरें और की गई खोज सामने आती रहती हैं जिनके विषय में जानकर हैरानी भी होती है और प्रसन्नता भी होती है।  हरियाणा सरकार के द्वारा भी युवा वर्ग को विज्ञान के प्रति प्रोत्साहित करने के लिए स्कूल और कॉलेजों में विज्ञान विषय की पढ़ाई करवाई जा रही है ।

कोरोना से बचाव के लिए 2-2 वैक्सीन 
उन्होंने कहा जब पूरी दुनिया कोरोना महामारी से आतंकित होकर हो रही मौतों सहित बीमारी पर काबू पाने के उपाय खोज रही थी। उसी दौरान भारत के चिकित्सा वैज्ञानिकों के द्वारा दुनिया में सबसे पहले कोरोना से बचाव के लिए 2-2 वैक्सीन मानव जगत के सुरक्षित जीवन के लिए बनाने का कारनामा अंजाम दिया। आज भारत में ही श्रीहरिकोटा केंद्र से दुनिया में सबसे अधिक सैटेलाइट लांच किए जा रहे हैं । यह अपने आप में साबित करता है कि भारत का विज्ञान, विज्ञान शोध और वैज्ञानिक सोच दुनिया में सर्वश्रेष्ठ है। इसी प्रदर्शनी में पहुंचे आर एस एस के प्रांत संचालक पवन जिंदल ने कहा कि विज्ञान और वैज्ञानिक शोध का भारत जनक रहा है । सही मायने में विज्ञान के विषय में भारत के ऋषि मुनियों के द्वारा की गई शोध आज हुई वैज्ञानिक जगत में अनुकरणीय है । भारत का अतीत से लेकर मौजूदा समय तक विज्ञान और वैज्ञानिक शोध हम सभी के लिए गर्व और गौरव की बात है ।

Computer

पारंपरिक तरीके से अभिनंदन
कॉलेज परिसर में आने पर आर एस एस के प्रांत संचालक पवन जिंदल एवं एमएलए सत्यप्रकाश जरावता का कॉलेज के प्रिंसिपल वीरेंद्र सिंह अंतिल, वाइस प्रिंसिपल प्रियंका बत्रा, साइंस एग्जीबिशन की संयोजक प्रेमलता यादव और आयोजक डॉ त्रिलोक सिंह के द्वारा पारंपरिक तरीके से अभिनंदन किया गया। इस मौके पर कॉलेज स्टाफ से डॉक्टर उषा यादव, डॉ कविता रानी, पवन कुमार, सुनील शास्त्री , सुरेंद्र कुमार, अशोक कुमार, प्रमोद राठौड़, महेंद्र सिंह, डॉक्टर आरजू, शोभा यादव, ज्योति यादव, डॉक्टर नीरज राणा, डॉक्टर तितिक्षा, डॉक्टर जयसिंह, देविका राठी, रेनू यादव, सोनू यादव , डॉक्टर योगेश कुमारी, डॉक्टर सोहन सिंह, यशपाल सैनी इत्यादि मौजूद रहे ।

इन कॉलेज के माडल रहे विजेता
राजकीय कॉलेज जाटोली में आयोजित पहली इंटर कॉलेज साइंस एग्जीबिशन में विजेता कॉलेज कैटेगरी के मुताबिक इस प्रकार से रहे हैं ।बॉटनी में डीजीसी गुरुग्राम प्रथम, जीसी बहादुरगढ़ दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे हैं । केमिस्ट्री में सेक्टर 14 गर्ल्स कॉलेज पहले स्थान पर, मेजबान कालेज जाटोली दूसरे स्थान पर डीजीसी गुरुग्राम तीसरे स्थान पर रहा है । कंप्यूटर साइंस में जीसी बहादुरगढ़ प्रथम , जीसी झज्जर दूसरे और तीसरे स्थान पर रहा है । जियोग्राफी में मेजबान कालेज जाटोली पहले स्थान पर, डीजीसी गुरुग्राम दूसरे स्थान पर और गर्ल्स कॉलेज सेक्टर 14 तीसरे स्थान पर रहा है। फिजिक्स में डीजीसी गुरुग्राम पहले स्थान पर , गर्ल्स कॉलेज सेक्टर 14 दूसरे स्थान पर और मेजबान कालेज जाटोली तीसरे स्थान पर रहा है। साइकोलॉजी में जीसी सेक्टर 9 पहले स्थान पर, गर्ल्स कॉलेज सेक्टर 14 दूसरे और तीसरे स्थान पर रहा है । जूलॉजी में जीसी बहादुरगढ़ पहले स्थान पर , जीसी झज्जर दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे हैं । जियोग्राफी में मेजबान कालेज जाटोली पहले स्थान पर, डीजीसी गुरुग्राम दूसरे स्थान पर और गर्ल्स कॉलेज सेक्टर 14 तीसरे स्थान पर रहे हैं। फिजिक्स में डीजीसी गुरुग्राम प्रथम , गर्ल्स कॉलेज सेक्टर 14 दूसरे स्थान पर और मेजबान कॉलेज तीसरे स्थान पर रहा है । साइंस एग्जीबिशन के विजेता कॉलेज के प्रतिभागी छात्र-छात्राओं को पुरस्कार देकर प्रोत्साहित किया गया।

cctv

Leave a Reply

%d bloggers like this: