Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

दाखिले को पोर्टल खुला, अब हॉस्टल पर होगा काम: नवीन गोयल

0 4
Poonam

दाखिले को पोर्टल खुला, अब हॉस्टल पर होगा काम: नवीन गोयल

-राजकीय कन्या महाविद्यालय की छात्राओं, स्टाफ ने किया नवीन गोयल का धन्यवाद
-कालेज में आमंत्रित करके हॉस्टल को भी शुरू कराने की रखी मांग

प्रधान संपादक योगेश

गुरुग्राम। दाखिलों का तय समय पूरा होने के साथ ही बंद हुए ऑनलाइन पोर्टल के फिर से शुरू होने से प्रदेश के हजारों विद्यार्थियों के चेहरों पर मुस्कान छा गई है। अब खाली सीटों पर वंचित विद्यार्थी दाखिला ले सकते हैं। महाविद्यालयों में भी इस बात की खुशी है कि अब उनकी खाली सीटें पूरी भर जाएंगी।

Computer

गुरुग्राम समेत पूरे हरियाणा के महाविद्यालयों में काफी सीटें खाली रह गई हैं। दाखिलों के लिए आवेदन करने का ऑनलाइन पोर्टल बंद किए जाने से छात्र-छात्राएं नाउम्मीद हो चुके थे। सरकार तक यह बात पहुंचाई गई। जिस पर तुरंत प्रभाव से पोर्टल खोलने का निर्णय लिया गया। इस पर महाविद्यालयों के स्टाफ और छात्र-छात्राओं ने खुशी जाहिर की है। इस खुशी में आंखों में आंसु लिए छात्रा कविता ने कहा वह तो इस साल पढ़ाई करने की उम्मीद ही खो चुकी थी। अब वह दाखिला ले लेगी।

दाखिला तो वंचित विद्यार्थियों को मिल जाएगा, लेकिन इस पूरे काम के पीछे जिस शख्स का प्रयास है वह पर्यावरण संरक्षण विभाग भाजपा हरियाणा प्रमुख नवीन गोयल हैं। राजकीय कन्या महाविद्यालय सेक्टर-14 की ओर से उन्हें इस बारे में अवगत कराया गया। नवीन गोयल ने बिना देरी किए मुख्यमंत्री मनोहर लाल, सांसद एवं केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह, शिक्षा मंत्री कृष्णपाल गुर्जर समेत उच्चाधिकारियों को पत्र भेजकर पोर्टल फिर से शुरू करने की मांग की। जिस पर सरकार ने तुरंत निर्णय लिया है।
इस काम के धन्यवाद के लिए मंगलवार को नवीन गोयल को राजकीय कन्या महाविद्यालय में आमंत्रित किया गया। इस अवसर पर नवीन गोयल ने कहा कि सरकार बेटी बचाओ बेटी पढाओ पर काम कर रही है। कोई बेटी पढ़ाई से वंचित ना रहे, यह प्रयास सबके हैं। नवीन गोयल ने कहा कि एक बेटी दो घरों को रोशन करती है। अगर वह पढ़ाई से वंचित रह जाती है तो हमारे लिए दुख की बात होती। इसलिए सरकार ने बिना देरी के इस काम पर मुहर लगा दी।

कन्या महाविद्यालय में आकर उन्होंने छात्राओं की समस्याओं को जाना तो इस पर बिना देरी के काम किया। बनकर तैयार हो चुके हॉस्टल को शुरू कराने की मांग भी कालेज की तरफ से नवीन गोयल समक्ष रखी गई। उन्होंने यहां आश्वासन दिया कि हॉस्टल को जल्द शुरू कराने के प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने प्राचार्य डा. रमेश गर्ग से कहा कि बेटियों की शिक्षा से संबंधित भविष्य में भी कोई परेशानी हो तो वे उन्हें अवगत करा सकते हैं।

cctv

Leave a Reply

%d bloggers like this: