Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

केंद्रीय पर्यावरण मंत्री के गांव जमालपुर में खुलेगा आयुर्वेदिक हॉस्पिटल: सीएम खट्टर भूपेन्द्र यादव

0 26
Poonam

केंद्रीय पर्यावरण मंत्री के गांव जमालपुर में खुलेगा आयुर्वेदिक हॉस्पिटल: सीएम खट्टर  भूपेन्द्र यादव के पैतृक गांव  जमालपुर में  आयोजित अभिनंदन समारोह गांव जमालपुर के लिए सीएम ने की कई घोषणाएं             

प्रधान संपादक योगेश

Computer

गांव जमालपुर में सीवरेज , हर खेत को सूक्ष्म सिंचाई योजना से जोड़ने का ऐलान                                          फतह सिंह उजाला                                          जमालपुर /गुरुग्राम। हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर सोमवार को केन्द्रीय मंत्री श्री भूपेन्द्र यादव के गुरूग्राम जिला में स्थित पैतृक गांव जमालपुर में आयोजित अभिनंदन समारोह में पहुंचे और वहां पर गांव के लिए कई घोषणाएं की। इनमें प्रमुख रूप से गांव जमालपुर में आयुर्वेदिक काॅलेज खोलने , गांव में सिवरेज की व्यवस्था करने , हर खेत को सूक्ष्म सिंचाई योजना से जोड़ते हुए 85 प्रतिशत सब्सिडी देने के अलावा, बाजरा फसल की बिजाई छोड़कर सब्जी-फल लगाने पर 4 हजार रूप्ये प्रति एकड़ प्रोत्साहन राशि देने की घोषणाएं शामिल हैं। गुरूग्राम जिला के गांव जमालपुर के रहने वाले राज्यसभा सांसद  भूपेंद्र यादव को मोदी सरकार में केन्द्रीय मंत्री बनाए जाने पर आज उनके पैतृक गांव में भव्य अभिनंदन समारोह आयोजित किया गया था। इस अभिनंदन समारोह में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। मुख्यमंत्री  मनोहर लाल का गांव जमालपुर व आसपास के गांवों की सरदारी ने सम्मान की सूचक पगड़ी पहनाकर उनका अभिनंदन व स्वागत किया।इस मौके पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अपने संबोधन में  केन्द्रीय मंत्री भूपेन्द्र यादव की मांग पर गांव जमालपुर में आयुर्वेदिक हॉस्पिटल खोलने के घोषणा करते हुए कहा कि यहां के लोगों का स्वास्थ्य अच्छा रहे इसके लिए गांव की 10 एकड़ पंचायती जमीन पर आयुर्वेदिक हॉस्पिटल खोला जाएगा। इसके साथ ही केंद्रीय पर्यावरण , श्रम, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेन्द्र यादव के गांव में सीवरेज की व्यवस्था करने की घोषणा करते हुए श्री मनोहर लाल ने कहा कि गांव भले ही छोटा है लेकिन इसमें सीवरेज की व्यवस्था की जाएगी ,यह भी पर्यावरण का एक हिस्सा है।मुख्यमंत्री ने कहा कि इस क्षेत्र में पानी के संकट की बात भी उन्हें बताई गई है। यह इलाका बाजरे का इलाका है। उन्होंने कहा कि पहली बात तो यह है कि हमने बाजरे के किसानों को भी पीछे नहीं छोड़ा है। हमने बाजरे की 2150 रूप्ये के समर्थन मूल्य पर खरीदा जबकि राजस्थान की सरकार बाजरा नही खरीद रही थी और वहां पर 1200 से 1300 रूप्ये क्विंटल के भाव पर बाजरा बिक रहा था।  उन्होंनंे कहा कि हम इस बार आपको नहरी पानी देंगे लेकिन हमारी एक बात मान लो, बाजरा बोना छोड़ दो। जो बाजरा बोना छोड़कर फल ,सब्जियां या दाल आदि बोएगा सरकार उसको चार हजार प्रति एकड़ की प्रोत्साहन राशि देगी। उन्होंने कहा कि सब्जी व फल आदि की फसल के लिए भी पानी की जरूरत होगी। इसके लिए गांव जमालपुर के लोग सूक्षम सिचांई प्रणाली को अपनाएं जिसमें सरकार 85 प्रतिशत सब्सिडी भी देगी। इससे पहले केन्द्रीय मंत्री भूपेन्द्र यादव ने अपने संबोधन में कहा कि मुझे कल्पना नही थी कि मेरा इलाका मेरा इतना सम्मान करेगा। मै हाथ जोड़कर प्रणाम करता हूूं। उन्होंने कहा कि इतनी भारी संख्या में लोग उनका अभिनंदन करने के लिए आए हैं और लोगों से मिला आर्शीवाद व उर्जा पीएम श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा उन्हें दी गई जिम्मेदारी को पूरा करने में काम आएगा। उन्होंने ये भी कहा कि हमेशा भगवद् गीता को उन्हांेने जीवन का आधार बनाया है और कभी मोह , कामना , विषय की इच्छा नही की। यह संगठन का तकाजा रहा  , मुझे जिम्मेदारी मिलती रही और मैं काम करता रहा। भूपेन्द्र यादव ने ओबीसी को संवैधानिक दर्जा दिए जाने से होने वाले फायदों की भी चर्चा की।  इस अवसर पर केन्द्रीय मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर, सिरसा से सांसद सुनीता दुग्गल, अलवर से सांसद महंत बालकनाथ, पूर्व मंत्री राव नरबीर सिंह, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ओम प्रकाश धनखड़, राष्ट्रीय पिछड़ा आयोग की सदस्य व पूर्व सांसद सुधा यादव, महामंडलेश्वर स्वामी धर्मदेव, सोहना से विधायक संजय सिंह, पटौदी से विधायक सत्यप्रकाश जरावता, भाजपा जिला अध्यक्ष गार्गी कक्कड़, जिला पार्षद संटी यादव सहित भाजपा के अन्य नेतागण प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

cctv

Leave a Reply

%d bloggers like this: